बैंक मैनेजर कैसे बनें? बैंक मैनेजर की सैलरी क्या है?

क्या आप भी किसी सरकारी या प्राइवेट बैंक में बैंक मैनेजर बनना चाहते हैं। क्या आप को भी बैंक मैनेजर कैसे बने? की जानकारी ना  होने की वजह से बैंक मैनेजर बन ने की पूरी प्रक्रिया समझने में समस्या आ रही है। अगर ऐसा है! तो आप बिलकुल निश्चिंत हो जाइए क्यूँकि आज हम अपने लेख में आपके लिए लाए हैं सम्पूर्ण जानकारी।



यह लेख पूरा पढ़ने के बाद आपको इस टॉपिक के बारे में कोई भी जानकारी लेने के लिए कहीं दूसरी साइट पर जाने की आवश्यकता नहीं पड़ने वाली है। आज हम अपने लेख में बताने जा रहें हैं कि सरकारी बैंक में मैनेजर कैसे बने?/ private बैंक में मैनेजर कैसे बनें? बैंक मैनेजर बनने के लिए क्या करें? बैंक मैनेजर की सैलरी कितनी होती हैबैंक मैनेजर के लिए योग्यता क्या होनी चाहिए, इस तरह के सारे सवालों के जवाब इस लेख में आपको मिलने वाले हैं।




bank manger, salary, eligibility, Bank PO exam






बैंक मैनेजर बनने के लिए शैक्षिक योग्यता (eligibility required to become a bank manager):



जब भी कोई युवा, बैंक मैनेजर बनने के बारे में सोचता होगा चाहे वो सरकारी बैंक में मैनेजर बनने के बारे में हो अथवा private बैंक में, तो सबसे पहले उसके दिमाग़ यह प्रश्न ज़रूर उठता होगा की बैंक मैनेजर बनने के लिए कितनी क्वालिफ़िकेशन की आवश्यकता होता है।



तो हम आपको बता दें की बैंक मैनेजर बनने के लिए आपको किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से न्यूनतम स्नातक(graduate) होना आवश्यक होता है।



यानी आपके पास कोई भी बैचलर की डिग्री होना महत्वपूर्ण होता है। आप चाहे जिस भी subject से ग्रैजूएशन कर सकते हैं।




किसी भी private अथवा सरकारी बैंक में मैनेजर कैसे बनें?



चाहे आप सरकारी बैंक में मैनेजर बनना चाहते हैं या फिर private बैंक में आपको पढ़ाई में मेहनत करनी ही पड़ेगी। बैंक मैनेजर का पोस्ट किसी भी बैंक में सबसे बड़े अधिकारी के रूप में होता है।



अगर बात करें दोनो में से ज़्यादा आसान कौन है तो private बैंक में मैनेजर बनने के लिए आपको सरकारी नौकरी के मुक़ाबले कम मेहनत करनी पड़ती है।



बैंक मैनेजर बनने की राह थोड़ी सी लम्बी होती है क्यूँकि इस पद के लिए कोई सीधी भर्ती नहीं होती है ना ही बैंक मैनेजर पद के लिए कोई direct इग्ज़ैम करवाया जाता है।



बैंक मैनेजर बनने के लिए आपको सबसे पहले Bank PO (bank probationary officer) की परीक्षा पास करनी होती है। बैंक PO की परीक्षा पास करने के बाद आपको बैंक में मुख्य मैनेजर के नीचे उसके सहायक के रूप में assistant बैंक मैनेजर के पद पर रखा जाता है।



फिर आपको assitant manager के पद पर 2-5 साल तक जॉब करनी होगी। इतना अनुभव होने के बाद में आपको बैंक का मैनेजर या शाखा प्रबंधक के पद पर नियुक्ति दी जाती है।



private बैंक में मैनेजर कैसे बनें?


निजी बैंक में बैंक मैनेजर बनने के लिए, हर private bank अपनी खुद की बैंक PO (probationary officer) के इग्ज़ैम करवाता है। कैंडिडेट्स को जिस बैंक में PO बनना होता है उसका फ़ॉर्म अप्लाई करके उसमें पास होना होता है।



हर निजी बैंक अपने अधिकारिक website पर इग्ज़ैम की पूर्वसूचना देता है। जिस भी बैंक में आपको पीओ का exam देना हो। उसकी website पर जाकर आप वहाँ ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।



इसके साथ- साथ private banks, बड़े- बड़े management colleges से MBA करके पास आउट होने वाले स्टूडेंट्स को campus selection के द्वारा बिना किसी इग्ज़ैम को दिए PO के पद के लिए select कर लेते हैं।



सरकारी बैंक में मैनेजर कैसे बनें?



सरकारी बैक में PO बनने के लिए मुख्यतः दो परीक्षाओं का विकल्प मिलता है। पहला है SBI PO और दूसरा है IBPS PO इन दोनों मे अगर आपको SBI में PO बनना है तो SBI पीओ के लिए आवेदन कीजिए।



SBI के अलावा जितने भी सरकारी बैंक हैं उसमें PO बनने के लिए आपको IBPS PO की परीक्षा उत्तीर्ण करनी पड़ेगी।



IBPS full form:-


IBPS- Institute Of Banking Personnel Selection

PO full form:-


PO- Probationary Officer





Bank manager kaise bane step by step guide:-


Step:1

अगर आप 10 th में हैं या उससे छोटी कक्षा के विद्यार्थी हैं और बैंक PO बनने का सपना लेकर चल रहें हैं तो सबसे पहले आप 12th पास कर लें। 12वीं आप किसी भी सब्जेक्ट या स्ट्रीम से पास कर सकते हैं। science, commerce, arts किसी भी स्ट्रीम से।

Step:2

अगर आप 12वीं पास स्टूडेंट्स में आते हैं तो आप सबसे पहले अपना ग्रैजूएशन किसी भी मान्यता प्राप्त university से पूरा कर लें ग्रैजूएशन में आप कोई भी सब्जेक्ट या स्ट्रीम लेकर पढ़ाई कर सकते हैं।

Step:3

अगर आपने पहले से ही graduation की पढ़ाई की हुयी है तो अब आपको Bank PO परीक्षा के लिए आवेदन कर देना चाहिए क्यूँकि कोई भी बैंक सीधे तौर पर बैंक मैनेजर पद के लिए कोई इग्ज़ैम नहीं करवाता इसलिए पहले आपको उस बैंक में पीओ के पद पर काम करना पड़ेगा वो भी 2 से 3 सालों तक।


Step:4


बैंक PO के इग्ज़ैम में सफल होने के बाद आपको PO पद के लिए एक से दो सालों के लिए ट्रेनिंग पर भेजा जाता है। ट्रेनिंग की अवधि बैंक के हिसाब से अलग- अलग हो सकती है।

Step:5

ट्रेनिंग पूरी कर लेने के बाद आपको उस बैंक में assitant manager के रूप में काम पर रख लिया जाता है।


step:6

bank में कुछ सालों तक PO पद पर काम करने के बाद आपका सिलेक्शन ब्रांच मैनेजर (शाखा प्रबंधक) के पद पर कर लिया जाता है।




यह भी पढ़ें:










बैंक मैनेजर का कार्य क्या होता है?


bank manager job profile, roles and responsibilities-


  • किसी भी बैंक का बैंक मैनेजर उस शाखा का सबसे बड़ा अधिकारी होता है जिस से वो बैंक के सभी छोटे से बड़े कार्यों के लिए ज़िम्मेदार होता है।

  • एक बैंक मैनेजर का काम अपने बैंक के लिए अधिक से अधिक मुनाफ़ा करवाना और अनुशाशन व्यवस्था को बनाए रखने का होता है।

  • बैंक में उपस्थित अन्य staff को प्रतिदिन के कार्यों के लिए नेतृत्व करना और उनसे कार्यों को सही तरीक़े से करवाना।

  • ग्राहकों के आवश्यकता के अनुरूप योजनाएँ बनाना और सेवाओं का विकास करना।

  • बैंक के record और स्टेट्मेंट को maintain करना ।

  • ग्राहकों से और अन्य वित्तीय institutes से अच्छे सम्बन्ध बनाकर रखना जिस से ज़रूरत पड़ने पर बैंक को उनसे मदद मिल सके।

  • बैंकिंग के कार्यों से सम्बंधित आकड़ों को व्यवस्थित करके रखना।

  • बैंक के आर्थिक परिचालन का बजट बनाना साथ ही साथ expenses को नियंत्रित करना।





बैंक मैनेजर promotions और career growth:-


एक बार अगर आप बैंकिंग sector में प्रवेश कर जाते हैं तो आपका रास्ता आगे जाने के लिए थोड़ा आसान हो जाता है। हर बैंक में डीपार्ट्मेंटल इग्ज़ैम और interview होते रहते हैं जिसके माध्यम से आप step by step अपने पद से promote होते जाते हैं।



आइए देखते हैं की एक manager पद पर कार्यरत होकर आप कितना grow कर सकते हैं-



middle management grade- scale 2nd - manager

1st promotion- middle management grade scale3rd: middle manager

2nd promotion- senior management grade- scale 4th ;chief manager

3rd promotion- senior manager grade- scale 5th : assistant general manager

4th promotion - top management grade scale 6th : Deputy general manager

5th promotion - top management grade scale 7th : General manager

6th promotion- Executive Director (ED)

7th promotion- Chairman and managing director (CMD)





एक बैंक मैनेजर के career में कितनी ग्रोथ हो सकती है ?


आज के दौर में चाहे हमें अपना एजुकेशन लोन लेना हो या फिर किसी व्यापार को बढ़ाने के लिए business loan लेना हो, हम बैंक 
के मदद के बिना कोई भी काम नहीं कर सकते।



बैंकिंग का क्षेत्र पूरी दुनिया में हमेशा से ही पब्लिक को financial सपोर्ट के लिए तत्पर रहा है। बैंक किसी भी देश की अर्थव्यवस्था चलाने में महत्वपूर्ण योगदान देते रहें हैं।



आर्थिक विकास के चलते अब ATM और UPI मनी transfer जैसे कई ऐसी सुविधाएँ लोगों के बीच आ चुकी हैं जिस से अब बैंकिंग पहले से बहुत आसान और handy हो गयी है।



अब अगर आपका बैंक खाता भारत में है और आप australia घूमने गए हैं और वह आपको पैसे निकालने की ज़रूरत पड़े तो आप वहाँ की ATM machine से आसानी से अपने पैसे प्राप्त कर सकते है।



अन्य क्षेत्रों के मुक़ाबले बैंकिंग सेक्टर में आपको सैलरी काफ़ी अच्छी मिलती है साथ ही साथ बहुत सारे other funds और allowance भी provide किए जाते हैं।



तो इस तरह से अगर आपने अपने career विकल्प के रूप में बैंकिंग को चुना है तो मेहनत और लगन से अपनी पढ़ाई पर ध्यान देते रहिए।



एक बार अगर आप banking के क्षेत्र में किसी भी पद को प्राप्त कर लेते हैं तो आगे आपका जीवन बहुत ही आसान और शानदार हो सकता है।




बैंक मैनेजर की सैलरी कितनी होती है? (what is the salary of a bank manager):


हर बैंक द्वारा अपने branch manager को दी जाने वाली सैलरी अलग-अलग हो सकती है। इसके साथ में यह भी निर्भर करता है की आप को किसी शहरी ब्रांच में मैनेजर की पोस्ट मिली है या ग्रामीण क्षेत्र में।



ग्रामीण क्षेत्रों के मुक़ाबले शहरी क्षेत्रों के brach manager की salary थोड़ी अधिक मिलती है। इसके साथ में बहुत सारे भत्ते भी दिए जाते हैं जैसे- Travel allowance, Dearness allowance, house rent allowance इत्यादि।




बैंक मैनेजर को मिलने वाले भत्ते:


DA (Dearness Allowance), HRA (House Rent Allowance), CCA (City Compensatory Allowance), leased accommodation, Medical facility, telephone Expenses etc.




अंत में (Conclusion):


Bank manager banane ki poori jankari. sarkari ya private bank manager kaise bane. bank PO exam.


हम आशा करते हैं की हमारा यह लेख पढ़ने के बाद आपको यह समझ में आ गया होगा की  Bank manager kaise bane? private bank manager kaise bane? Bank manager ki salary, sarkari bank manager ki salary, bank manager ka syllabus के बारे में।


अगर आपको हमारा यह लेख bank manager kaise bane?  पसंद आया हो तो इससे अपने मित्रों और सम्बन्धियों के साथ अवश्य share करें। लेख से सम्बंधित किसी भी प्रकार के  डाउट के लिए कृपया हमें कॉमेंट के माध्यम से सुझाव दें। धन्यवाद 🙏














एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ