bad habits को कैसे छोड़े ? 7 आसान तरीक़े

How to break bad habits? 7 easy ways

आज के इस लेख में हम आपको बताने वाले हैं 7 ऐसे आसान steps के बारे में जिसको follow करके आप अपनी bad habits से छुटकारा पा सकते हैं। habits के द्वारा ही हमारे व्यक्तित्व का विकास होता। इसी से हमारे भविष्य का निर्धारण भी होता है।

बुरी आदतें हमारे life को बहुत बुरी तरह से प्रभावित करतीं हैं। अक्सर आपने  देखा होगा की अच्छी आदतों को बनाने में बहुत time लगता है वहीं बुरी आदतों को बन ने में कुछ दिन या कुछ हफ़्ते ही काफ़ी हैं।


how to break habits in hindi


इसका एक बहुत बड़ा कारण हमारी बॉडी में बन ने वाले harmones भी हैं। कुछ harmon जैसे एंडॉर्फ़िन और dopamine का हमारी बुरी आदतों को develop करने के लिए मुख्य रूप से ज़िम्मेदार भी माना जा सकता है। जब हम drink करते हैं या फिर smoking करते हैं तो हमारा brain इन harmons को बहुत अधिक मात्रा में निकालने लगता है।

इन हार्मोंस के अत्यधिक स्त्राव से हमें कुछ time के लिए बहुत अधिक ख़ुशी और आनंद की अनुभूति होती है। ठीक उसी प्रकार जब हम social media जैसे- Facebook, whatsapp, twitter और instagram जैसे sites का उपयोग करते हैं तब भी हमारा brain इन्हीं हार्मोंस का स्त्राव करता है और हमें social media addiction की तरफ़ ले जाता है।

इस प्रकार से हम ये जानते हुए कि ये चीजें हमारी life को बर्बाद कर रहीं हैं , हम इनका इस्तेमाल करना नहीं छोड़ते और धीरे - धीरे हम अपने पढ़ाई - लिखाई को भी दांव पर लगाकर इनका use करने लगते हैं।

बुरी आदतों के उदाहरण अगर देखे तो उसमें mobile phone addiction, Facebook, instagram, you tube , अत्यधिक tv देखना, दांतों से नाखून काटना, शराब पीना, धूम्रपान करना इत्यादि आते हैं।

एक कहावत है कि "पहले हम आदतें बनाते है, फिर आदतें हमें बनाती हैं"। इसका मतलब हम अपने life में जो कुछ भी बनते हैं उसके पीछे हमारी आदतों का सबसे बड़ा हाथ होता है।

अगर देखा जाए तो हर आदत को बन ने में मुख्यतः  3 step लगते हैं जो हैं कारण, पुनरावृत्ति और उपलब्धि की मानसिकता।

पहला है कारण। हम प्रतिदिन नहाते, खाते, news paper पढ़ते हैं क्यूँकि इसके पीछे हमारा साफ़ सुथरा रहना और प्रतिदिन के समाचार से update रहना  है।

दूसरा आता है repeat या दोहराव। हमें जब किसी कार्य को करने में आनंद आने लगता है तो उस कार्य को बार बार करने का मन होने लगता है जिस से एक नियत समय के बाद हमारा brain हमें वो कार्य करने के लिए उकसाने लगता है और हम उस कार्य को बार-बार करने लगते हैं।

उदाहरण के लिए अगर आप social media addiction के चपेट में हैं तो आपका मन हमेशा you tube और Facebook और अन्य social site का use करने के लिए demand करता रहेगा।यही वजह है की कई बार हम ना चाहते हुए भी बेवजह अपने phone को अपने pocket से निकालकर check करते रहते हैं।

तीसरा आता है Reward (उपलब्धि की भावना) जब- जब आपकी इच्छा you tube, Facebook या कोई social site चलाने की होती है तो आप उसका use करने लगते हैं और ये आपके डेली routine में शामिल हो जाती है, इस प्रक्रिया में दिमाग़ को ऐसा आभास होता है की उसको reward मिल रहा है।

यह ठीक उसी प्रकार है जैसे कोई बच्चा chocolate के लिए ज़िद करे और उसके पेरेंट्स उसे chocolate लाके दे दें जिस से बच्चे को ये आभास हो जाता है की ज़िद करने पर उसकी demand पूरी होती है और वो बार - बार हर चीज़ के लिए ज़िद करने लगता है।


1. अपने triggers को पहचाने :


मन के movement पर ध्यान दें की दिन के किस समय आपके brain में addiction के लिए demand उठती है। जब demand उठती है तो आप को कैसा महसूस होता है।

उदाहरण के लिए अगर आप dieting कर रहे हैं तो chocolate, icecream और fast foods आपके लिए trigger की तरह काम करते हैं जिनको देखते ही आपको उन्हें खाने का मन करे भले ही वो आपके weight loss करने के target के लिए बुरे साबित हों।

ठीक उसी तरह से अगर आप internet addict हैं तब Facebook, instagram, you tube आपके लिए triggers का काम करते हैं।


bad habits ko kaise chode?



2. अपने किसी मित्र की सहायता लें:


किसी bad habit को छोड़ना आपके लिए थोड़ा मुश्किल हो सकता है पर अगर आपको कोई ऐसा friend मिल जाय जो आपकी ही तरह अपने bad habits को छोड़ना चाहता हो तो आपका रास्ता काफ़ी आसान हो जाएगा।

आप दोनो एक दूसरे को encourage कर सकते हैं और addiction छोड़ने के रास्ते में आने वाली  problems को साझा भी कर सकते हैं।

इसके लिए अपने किसी बहुत ही ख़ास friend को चुने जो आपको टाइम पर remind कराता रहे और अगर आप अपने रास्ते पर भटकें तो आपको gently, rules के बारे में याद दिला दे।


3. ध्यान करने की practice करें:


meditation एक ऐसी प्रक्रिया जिस जिसको अगर आप थोड़ा - थोड़ा प्रतिदिन करने का प्रयास करते हैं तो ये आपको life में काफ़ी changing जोड़ देगा। जैसे आपको अपने thoughts, feelings और भावनाओं पर command होने लगेगा।

आपको अपने मन के क्रियाकलाप को बिना disturb हुए अवलोकन करने की क्षमता आ जाएगी जोकी एक बहोत बड़ी quality होती है। इसकी practice करने से आप अपने addiction के effect को achhi तरह से पहचान पाएँगे जिस से आप जल्दी से जल्दी अपनी आदत से छुटकारा पा जाएँगे।


4. अपनी आदत को दबाएँ नहीं बल्कि किसी दूसरी आदत से बदल लें:


कभी भी अपनी आदत को दबाने की कोशिश ना करें नहीं तो इसका उल्टा effect पड़ेगा बल्कि उसको किसी दूसरी achi habit में change करने की कोशिश करें।

उदाहरण के लिए अगर आप पान मसाला खाने के आदी हैं तो जब भी आपके अंदर इसे खाने की तालाब उठे तो उसे ना खाकर कोई dry fruits या भुने हुए चने खाएँ इस से आपकी पुरानी आदत धीरे -धीरे अच्छी आदत में बदलने लगेगी।


5. थोड़ी - बहुत ग़लतियों को ignore करें:


इसका मतलब है की अगर आपने ये निश्चय कर लिया की आपको अपनी बुरी आदत छोड़नी है और आप अपने rules को follow करते हुए अगर कभी slip कर गये तो उसको avoid करें। 

क्यूँकि किसी बुरी आदत को छोड़ना एक बहुत ही लम्बा और हिम्मत भरा काम होता है, इसको कोई भी व्यक्ति एक दिन में नहीं बदल सकता । आप अपने आदत को धीरे-धीरे करके छोड़े। 

जैसे मान लीजिए आपको smoking छोड़ना है और काफ़ी दिन से अपने स्मोक नही किया है आप काफ़ी उत्साह में हैं की एक दिन कुछ पुराने friends आपको मिल जाते हैं और उनके कहने पर आपने smoke कर लिया। अब आपको ये लगने लगा की, ये तो आपने  बहुत बड़ी भूल कर दी और आप discourage होकर आप अपनी पुरानी आदत में डूब जाएँ।

ऐसा ना करके आप उसे ज़्यादा तवज्जो ना देते हुए फिर से अपने राह पर नए rules के साथ चलने लगें।

 यह भी पढ़ें:






6. छोटे- छोटे steps से शुरुआत करें:


एक बार में बहुत बड़ा goal decide ना करें  बल्कि थोड़ा - थोड़ा करके अपने गोल को कई छोटे हिस्से में बाँट लें जिस से उनको achieve करना आपके लिए आसान हो। जब आप अपने goals को प्राप्त करते हैं तो आपके अंदर अपने आप ही साहस बढ़ता है।

ये मायने नहीं रखता की आपका गोल बड़ा है या छोटा। उदाहरण के लिए अगर आप weight loss करना चाहते हैं तो अपने routine में थोड़ा - थोड़ा change करें। जैसे आप पहले morning walk करने की कोशिश करें और फिर धीरे - धीरे jogging और उसके बाद sprinting कर सकते हैं।


7. Note बनाएँ:


आप अपने bad habits को किसी notebook में note कर सकते हैं की कौन सी habit की वजह से आपको आपके परिवार को problem face करनी पड़ रही है और उसका असर किस तरह आपके future पर पड़ेगा।

इस तरह के नोट्स को बनाकर अपने wallet में या computer के wallpaper पर लगाएँ , ये reminder की तरह काम करेगा जिस से जब भी आपकी नज़र इसपर पड़ेगी आपको सारी बातें remind हो जाएँगी।


आज के इस लेख bad habits को कैसे छोड़े? 7 simple ways से आपने क्या सीखा हमको comment करके ज़रूर बताएँ।
अगर आपको हमारा यह article पसंद आया हो तो please इसे अपने दोस्तों के साथ share करें। 
हमारी कोशिश यही रहती है कि आपको किसी भी topic की सम्पूर्ण जानकारी एक ही जगह मिल जाए जिस से आपके समय की बचत हो और आपको knowledge भी मिल जाय।











एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ