Resume कैसे बनायें (how to make resume in hindi)

 Resume कैसे बनायें -

ये पोस्ट उन लोगों के लिए है जो पहली बार रेज़ूम बनाने जा rhe हैं । क्या आपको पता है एक अच्छा resume आपको जॉब दिलाने में कितना help कर सकता है। एक अच्छा resume आपको जॉब दिला सकता है,

जिस से  अगर आप अपनी लाइफ़ की शुरुआती दिनो में हैं तो  आपको जॉब मिल जाती है और आपके life में hea lth, wealth और love इन सारी चीजों को अट्रैक्ट करती है।

 finally ये सारी बातें आपकी life में तभी आएँगी जब आप एक attractive  resume  बना ले। चाहे आप fresher हो या professional हो या  फिर होम maker house wife हों, इस पोस्ट को आख़िर तक पढ़िए आपको बेहतरीन resume बना ना आ जाएगा। हम आपको google docs पर resume kaise banaye के बारे में बताएँगे।




आपको पोस्ट के last में एक Google docs पर बने resume का screen shot मिल jayega जिसमें सारी points जो हम पोस्ट में bta rhe हैं वो practically mention होंगी।

google docs इसीलिए क्यूँकि इसपर resume बना ना सबसे ज़्यादा आसान है। आपको इसमें ना ही कोई app install करना रहेगा ना ही कोई charge लगेगा। ये बिलकुल ही आसान तरीक़ा है। google docs के हेल्प से आप phone या computer किसी  के भी मदद से अपना resume  बना सकते हैं।


तो आज के पोस्ट में हम देखेंगे 


1. एक interviewer , resume में क्या dhoodta है 

2. आपके resume का structure कैसा हो 

3. google docs पर resume कैसे बनाए banaye


१ एक interviewer resume में क्या देखता है 


आप जब भी अपना resume को किसी office में या mail में submit करते  है तो आपको पता होना चाहिए की उस particular job के लिए employer के पास हज़ारों रेज़ूम आते हैं । इतनी ज़्यादा resumes को वो मुश्किल  से ही पूरी तरह से देख पाता  होगा या देखता भी होगा तो बस 5-6 seconds के लिए, 

तो आप resume को एसा बनाइए की पहली नज़र में ही  काफ़ी चीजें clear हो जाए नहि तो आपका resume  हटाकर वो दूसरे resume  देखने  लगेगा ।

पहले हम बात करेंगे की अगर आप एक working professional हो तो resume structure कैसा होगा ।

सबसे पहले google docs open करें 
नीचे दिए गये लिंक से आप directly google docs पर जा सकते हैं।
 






pehle स्टेप में आप Google docs पर जाइए और उसमें कोई भी पसंदीदा template choose कर lijiye।
यहाँ पर आपको structure already बना हुआ मिलेगा। अब आपको उन structure में क्या फ़िल करना है बस उसको ही decide करना है।

अपना नेम लिखे (write your name)

यहाँ पर एक बड़े font साइज़ में आपका नेम शो होगा उसमें अपना नेम सही- सही type कीजिए;





Professional title 

यह पर आप उन baton को mention कीजिए जो आपको अपने professional field  में define करती हैं ।
ये just आपके name  के नीचे small  words में mention होगा।
जैसे - 
  •         problem solver 
  •           quick learner 
  •            innovator 
  •            mentor 

contact information


अब नेम के ठीक right साइड में आपको अपना contact detail fill करना है जिसमें आपको अपना address, pin code, email id और phone नम्बर टाइप करना है।अगर आप digital marketing के जॉब के लिए अप्लाई 

कर rhe हैं तो अपना instagram  aur twitter का हैंडल भी मेन्शन कर सकते हैं। इसके साथ ही आप अपनी skype id में लगा सकते हैं ये उन employer के लिए होगी जो आपसे skype के through interview लेना चाहते है।

कुछ  बातें जिनको आप अपने resume में मेन्शन ना भी करें तो भी कोई problem नहीं  है 

आपका मैरिटल स्टैटुस, आपकी date of birth, आपकी photo क्यूँकि इन सभी बातों का आपके professional life से कुछ  लेना-देंना नहीं  है और इनके ना होने से आपका resume  भी थोड़ा साफ़ -सुथरा दिखेगा। 

experience


इसमें आप को सबसे पहले आपकी  current  job  को mention  करना है उसके बाद previous job को mention करना है। उसके बाद इस से भी previous  जो job  कि थी उसको mention करना है ।इसी तरह एक reverse order में आप लिखते जाएँ ।

mention the company and your job role


अब इसमें आप अपने current company  का name aur location type  करिए और साथ में उस कम्पनी में अपनी पोस्ट को भी मेन्शन कीजिए। 

इसके बाद comapny मे आपकी क्या responsibilities थी उसको भी कुछ  words में describe कीजिए ।अगर description एक  से अधिक paragraph  में है तो  उसे bullet points के through शो कीजिए।bullet  points में टाइप करने पर interviewer को सारी चीज़ें easily दिखेंगी  जिस से आपके resume का impression अच्छा बनेगा।

Educatiion-

अगर आप professionally working है तो अपने education  section को छोटा  और सुंदर रखिए और यदि आप 5 साल से अधिक time से professional  field  में हैं तो आपको अपने highschool और intermediate के marks और percentage लिखने की कोई आवश्यकता  नहीं  है ।आप बस अपने आख़री degree को mention कर दीजिए वही  काफ़ी होगी।

project - 

अगर आप ने पिछली companies में किसी प्रोजेक्ट पर काम किया है तो उसके बारे में mention कर सकते है। ये आपके work  experience को बढ़ा देगा।

skills -

आप इस section में  अपनी communication स्किल, critical thinking skill, leadership skill, social media skill, project management skills etc फ़िल कर सकते हैं। 

additional सेक्शन -

 इसमें आप अपने जॉब के ज़रूरत के हिसाब से अपने बारे में  additional जानकारी दे सकते हैं।
जैसे - awards, certification, publications, पैटेंट, volunteer works, langauage known, extra curricular activities, courses, hobbies etc .

अब अगर आप fresher है तो resume kaise बनाए 


अगर आप fresher हैं या फिर आप entry level job के liye apply  कर रहें  हैं तो आपको कुछ  ज़्यादा नहि करना है बस ऊपर दिए गये resume structure में थोड़ा सा changing करके आप इसे fresher के लिए बना सकते हैं।

yaha पर 3 points हैं जिसमें  change करके  आप एक perfect fresher resume  बना सकते हैं।

education- 

अगर आप fresher हैं तो अपने education को अपने experience से पहले mention  कीजिए। अपने institution name, degree aur time period इसको आप उल्टे क्रम में रखिए जो अपने last  में किया है उसको पहले रखिए और highschool तक fill कीजिए साथ ही साथ अपना percentage  भी mention कीजिए।


Experience - 

अगर आप एक fresher हैं तो आपके पास ज़्यादा experience का expectation नि किया जाएगा। अगर आप अपने experiences में कुच add करना चाहते है तो अपने अपने कॉलेज टाइम में कोई project work किया हो तो उसको मेन्शन कर सकते हैं।अगर कोई internship की है तो उसको भी मेन्शन कर सकते हैं।

यहाँ तक कि अगर आप kids को tution देते थे या फिर swiggy में as a delivery boy काम किए  हो ताकि आपकी कॉलेज की fee दी जा सके तो भी  उसको  आप add कर सकते हैं। ये सारी बातें आपको हायर  करने वाले मैनजर पर आपकी अच्छी  image बना सकती हैं।

additional section 

addtional section में आप बहुत सी चीजों को mention कर सकते हैं। इसमें आप अपने competetive exams के scores को mention कर skte हैं।अगर ये नहि है तो आप अपने कॉलेज के किसी fest में participate किया हो तो उसको मेन्शन कर सकते हैं, अगर आप कोई ब्लॉग mentain करते हैं तो उसके बारे में यह पर describe कर सकते हैं।

तो  ये तीन मुख्य differences थे एक professional person और एक fresher के resume में 

अंत में तीन प्रमुख points को अपने ध्यान में रखिए 

one पेज rule 


कोशिस कीजिए की आपका रेज़ूम 1 पेज से ज़्यादा का न हो। अगला page तभी  जोड़िए जब आपके पास कुछ एसी information हो जो hiring company के लिए ज़रूरी हो।

2. proof read

हमेशा resume को double  check करने के बाद ही  आगे के लिए पास करें क्यूँकि आपके resume की एक छोटी सी grammatical  error  भी interviewer  के सामने आपकी image  ख़राब कर सकती है।
 

३ honesty 

 यह सबसे आख़री और सबसे important point  है।अगर आपके पास skill  nahin है तो ज़्यादा से ज़्यादा आपको job नहि मिलेगी लेकिन अगर आपने अपने बारे में झूठ लिखा तो , उस कम्पनी में आगे आने वाली किसी भी पोस्ट के लिए आपको job नहीं मिलेगी।अगर आपके पास skills नहीं  है तो कोई बात नहि कुछ  कम्पनी तो आपको training भी देने की लिए रेडी होती है lekin honesty एक एसा गुण है जिसपर कोईं भी कम्पनी कॉम्प्रॉमायज़ नहि करतीं।


conclusion 

 इस पोस्ट में इतना ही। आपको हमारी ये पोस्ट resume kaise banaye  कैसा लगा  कृपया हमें comment  करके बताएँ अगर आपको हमारी यह article  useful लगी हो तो  please इसे अपने friends और group में share करें क्यूँकि  हम अपनी पोस्ट लिखने में काफ़ी मेहनत और research करते हैं और आपको best देने की कोशिश करते हैं।
हमारी कोशिस यही रहती है आपको किसी भी पोस्ट की जानकारी एक ही जगह आसानी से मिल जाए जिस से आपका टाइम ना waste हो।


टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां